Home जयपुर Tripushkar Yog जेवर—जमीन और बहुमूल्य वस्तुओं की खरीदी के लिए श्रेष्ठ योग...

Tripushkar Yog जेवर—जमीन और बहुमूल्य वस्तुओं की खरीदी के लिए श्रेष्ठ योग पर बरतनी चाहिए ये सावधानी


जयपुर. 18 अक्तूबर 2020 को नवरात्रि का दूसरा दिन है जिसमें माता ब्रह्मचारिणी की पूजा—अर्चना की जाती है। इसके साथ ही आज त्रिपुष्कर योग भी बन रहा है जोकि मूल्यवान वस्तुओं की खरीदारी के लिए श्रेष्ठ माना जाता है। हालांकि यह योग पूजा—पाठ—उपासना आदि के लिए भी बहुत उत्तम रहता है क्योंकि इस योग में किए गए हर काम का तिगुना फल प्राप्त होता है।

ज्योतिषाचार्य पंडित सोमेश परसाई बताते हैं कि माना जाता है कि त्रिपुष्कर में जो भी कार्य किए जाते हैं उनका फल तीन गुना हो जाता है. यही कारण है कि इस योग में बहुमूल्य वस्तुएं जैसे – सोना-चांदी के जेवर खरीदना, हीरे-जवाहरात लेना, टीवी, कम्प्यूटर, लेपटाप, महंगे मोबाइल, वाहन आदि खरीदना शुभ माना गया है. इस योग में जमीन-जायदाद खरीदना, गाय-भैंस आदि की खरीदी, नया व्यापार शुरू करना, उद्योग लगाना श्रेष्ठ फल प्रदान करता है.

ध्यान रखें कि इस योग में कोई अनिष्टकारी बात न हो क्योंकि उसका फल भी तिगुना हो जाता है। ज्योतिषाचार्य पंडित नरेंद्र नागर के अनुसार इनकी शांति के लिए तिलों से बनी पीठी का दान दिए जाने का विधान है। इस योग में किसी बहुमूल्य वस्तु को खोना अशुभ होता है। इस दौरान कर्ज लेने से हर हाल में बचना चाहिए। कीमती वस्तुओं को बेचना भी नहीं चाहिए। इस योग में बड़े व्यापारिक सौदे करने चाहिए।

त्रिपुष्कर योग मुहूर्त
प्रारंभ होगा 18 अक्तूबर 2020 को सुबह 08:51 बजे
समाप्त होगा 18 अक्तूबर 2020 को शाम 17:28 बजे



Source link

Must Read

Navratri 9th day maa siddhidatri सफलता—समृद्धि देती हैं मां सिद्धिदात्री, इन स्तुति मंत्रों से प्राप्त करें माता की कृपा

जयपुर. नवदुर्गाओं में अंतिम रूप मां सिद्धिदात्री हैं जिनकी उपासना नवरात्र के नौवें दिन की जाती है। ज्योतिषाचार्य पंडित सोमेश परसाई बताते हैं...

aaj ka rashifal 25 october 2020 सिंह वालों के हर काम सफल, वृश्चिक—धनु वालों को भी लाभ, जानिए आपको क्या सौगात देंगे सूर्यदेव

जयपुर. 25 अक्टूबर को महानवमी है और विजयादशमी भी है. इसके साथ ही रविवार को कई अन्य शुभ योग भी बन रहे हैं।...

Aaj Ka Panchang 25 october 2020 खेल, विज्ञान, कंप्यूटर, इंजीनियरिंग, हार्ड वेयर, प्रापर्टी संबंधित काम करने का सबसे अच्छा समय

जयपुर. आश्विन शुक्ल पक्ष की उदया तिथि नवमी आज सुबह 7 बजकर 42 मिनट तक ही रहेगी, उसके बाद दशमी तिथि लग जाएगी।...

Maa siddhidatri Favourite Sweets Colours Flowers मां सिद्धिदात्री को प्रिय है कमल पुष्प, जानिए उनके मनपसंद मिष्ठान्न, रंग और पूजा विधि

जयपुर. नवरात्र के अंतिम दिन नवमी को मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। सभी सिद्धियों—निधियों के साथ देवी सिद्धिदात्री ही नवरात्र उपासना...