Home अध्यात्म मनी प्लांट के लिए दक्षिण-पूर्व दिशा होती है शुभ, इसके पीले पत्ते...

मनी प्लांट के लिए दक्षिण-पूर्व दिशा होती है शुभ, इसके पीले पत्ते हटा देना चाहिए


  • वास्तु में मनी प्लांट को माना गया है शुभ, इससे बढ़ती है सकारात्मकता

दैनिक भास्कर

Apr 08, 2020, 05:00 PM IST

घर की सकारात्मक ऊर्जा बढ़ाने और नकारात्मकता खत्म करने के लिए वास्तु टिप्स हमारे काम आ सकती हैं। घर में मनी प्लांट सही दिशा में लगा हो तो वातावरण सकारात्मक बना रहता है और धन संबंधी कामों में आ रही बाधाएं दूर हो सकती हैं। जानिए कोलकाता की वास्तु विशेषज्ञ डॉ. दीक्षा राठी के अनुसार मनी प्लांट से जुड़ी कुछ खास बातें, जिनका ध्यान हमेशा रखना चाहिए…

मनी प्लांट के पौधे को घर में लगाने के लिए आग्नेय कोण यानी दक्षिण-पूर्व सबसे अच्छी मानी जाती है। इस दिशा में ये पौधा लगाने से सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। दक्षिण-पूर्व दिशा का कारक ग्रह शुक्र है। शुक्र ग्रह बेल वाले पौधों का भी कारक है। शुक्र की दिशा में उसी का पौधा मनी प्लांट लगाना चाहिए।

मनी प्लांट को ईशान कोण यानी उत्तर-पूर्व दिशा में नहीं लगाना चाहिए। ईशान कोण का कारक बृहस्पति ग्रह है। शुक्र और बृहस्पति दोनों एक-दूसरे के शत्रु हैं। इस वजह से ईशान कोण में शुक्र ग्रह का पौधा नहीं लगाना चाहिए।

मनी प्लांट जितना हरा-भरा होता है, उतना शुभ माना जाता है। इसके पत्तों का मुरझाना, पीला या सफेद होना अशुभ माना जाता है। इसीलिए इसके खराब पत्ते तुरंत हटा देना चाहिए। पौधे की देखरेख अच्छी तरह करनी चाहिए।

मनी प्लांट घर में भी रखा जा सकता है। मनी प्लांट को पानी में रखना ज्यादा अच्छा होता है। इसका पानी समय-समय पर बदलते रहना चाहिए।

मनी प्लांट एक बेल है, इसीलिए इसे ऊपर की ओर चढ़ाना चाहिए। ये पौधा जमीन पर फैला हुआ हो तो वास्तु दोष बढ़ता है।



Source link

Must Read

जयपुर-पुणे, मरुधर एक्सप्रेस सहित चौदह ट्रेनों का संचालन बढ़ाया

जयपुर. ट्रेन से सफर करने वालों के लिए राहतभरी खबर। उत्तर पश्चिम रेलवे ने बढ़ता यात्रीभार देखते हुए जयपुर-पुणे, मरुधर एक्सप्रेस, जयपुर-इंदौर सहित...

सर्दी से मिली राहत, माउंट आबू 3.4 डिग्री सेल्सियस

प्रदेश में जयपुर सहित कुछ हिस्सों में शुक्रवार को सर्दी से कुछ राहत मिली है। शुक्रवार को पहले की तुलना में आसमान साफ...

स्टार्टअप्स शुरू करने वालों से सीधे बातचीत करेंगे विशेषज्ञ

जयपुरस्टार्टअप शुरू करने वाले युवाओं को समस्याओं के समाधान के लिए ज्यादा तनाव लेना नहीं पड़ेगा। अभी तक प्लेटफॉर्म और गाइडेंस नहीं मिलने...

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर डिग्री डिस्ट्रीब्यूशन सेरेमनी

जयपुरजेके लक्ष्मीपत यूनिवर्सिटी का पहला ई-कन्वोकेशन एवं फाउंडर डे का भव्य आयोजन ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर नए संकल्पों के साथ संपन्न हुआ। आईआईटी मुम्बई...